कश्मीरी आतंकियों की पथरबाजी में 2 जवान शहीद

8 months ago Newspadho 0

देश में 2 अप्रैल को दलित आतंकवादी संगठन भीम के द्वारा मचाए गए आतंक के बाद 4 अप्रैल को अनंतनाग में कश्मीरी आतंकवादियों के पथरबाजी में सीआरपीएफ के 2 जवान शहीद हो गए है और 2 गंभीर रूप से घायल है । अनंतनाग ज़िले के कोकरनाग इलाके में यह घटना हुई है जहा पर आतंकवादियों के द्वारा की गई पथरबाजी में सीआरपीएफ की एक गाड़ी पलट गयी और इस दौरान जिससे जवान गाड़ी की चपेट में आ गए । शहीद होने वाले जवान जम्मू कश्मीर के ही नज़ीर अहमद और फारुख अहमद है । सीआरपीएफ के बटालियन 164 के जवान ड्यूटी से लौट रहे थे तभी आतंकवादियों ने पथराव शुरू कर दिया जिस से गाड़ी के ड्राइवर के सर पर चोट लग गयी और ड्राइवर ने बैलेंस खो दिया जिसके बाद गाड़ी आगे जा रही मोटरसाइकल से टकरा गयी जिसपे 2 जवान को की सिविल ड्रेस में थे वो शहीद हो गए ।

हाल ही में जब देश के अंदर दलित आतंकवादियों ने देश के अंदर आतंक मचाया हुवा था तब सीमा पर देश के वीर जवानो ने बॉर्डर पर से पार्सल किये गए आतंकवादियों को नर्क पे डिस्पैच कर दिया और उनके दर्शन 72 हुर्रो से कराया । जिसके बाद जम्मू कश्मीर में स्थित आतंकवादी जो अक्सर पथराजी करते है अपने रिश्ते के आतंकवादियों को बचाने के लिए उनमे आक्रोश माँ माहौल था । हालांकि 13 पाकिस्तानी आतंकवादियों के साथ 3 पथरबाज आतंकवादियों को भी सेना ने मर गिराया था जो सिमा पर से आये आतंकवादियों की बच निकलने की कोशिश में मदद करने आये थे और पथरबाजी कर रहे थे ।

गौरतलब है की पाकिस्तान आए दिन अपने आतंकवादियों को भारत में घुसाने के चक्कर में उसके हाथो बिक चुके कश्मीरी मुसलमानो की मदद लेता है । भारत सरकार की तरफ से जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक 2018 में जनवरी और फरवरी में 633 संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है जिसमे 432 बार एलओसी पर किया है जबकि 201 बार इंटरनेशनल बॉर्डर पर किया है । जिसमे भारत के जवानो ने जनवरी में 10 आतंकवादियों को मर गिराया था । 2017 में पाकिस्तान की तरफ से सीज फायर का 860 बार उल्लंघन किया ।

अभी पाकिस्तान ने सिमा पार तकरीबन 300 आतंकवादी पल रखे है जो फसल काटने की फ़िराक में है की फसल कटे और घुसपैठ की कोशिश की जाये ।